Home » National » amarnath yatra terror attack mastermind lashkar terrorist ismail

amarnath yatra terror attack mastermind lashkar terrorist ismail

[ad_1]

जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग में अमरनाथ यात्रियों की बस पर हुए आतंकी हमले का मास्टर माइंड लश्कर-ए-तैयबा का आतंकी इस्माइल है. इसने ही अपने तीन साथियों के साथ इस हमले को अंजाम दिया, जिसमें 7 यात्रियों की मौत हो गई और 19 से ज्यादा घायल हो गए हैं. इस हमले के बाद देश भर में सुरक्षा एजेंसियों को हाई अलर्ट कर दिया गया है.

कश्मीर के आईजी मुनीर खान ने बताया कि अमरनाथ यात्रियों पर हुए हमले की साजिश आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा ने रची है. इसका मास्टर माइंड पाकिस्तानी आतंकी इस्माइल है. बताया जा रहा है कि करीब तीन साल पहले वह कश्मीर में आया था. इसके बाद उसे साउथ कश्मीर में लश्कर का कमांडर बना दिया गया. वह पंपोर इलाके में रहता है.

हिजबुल मुजाहिद्दीन के सुप्रीम कमांडर बुरहान वानी के एनकाउंटर के बाद लश्कर आतंकी इस्माइल कश्मीर में सक्रिय हो गया. उसने बैंक और एटीएम लूट की वारदातों को अंजाम दिया है. पिछले साल दिसंबर में सेना का साथ हुए एनकाउंटर में इस्माइल फंस गया था, लेकिन बचकर भाग निकला. सोमवार को गिरफ्तार हुए आदिल के साथ भी इसके संपर्क थे.

एक चश्मदीद ने बताया कि सोमवार की रात करीब 8.15 बजे अनंतनाग के खानबल में आतंकियों ने एक चेक पोस्ट पर हमला किया. आतंकियों के इस अप्रत्याशित हमले में जम्मू कश्मीर पुलिस के 3 जवान घायल हो गए. इसके बाद आतंकी खानबल से बटिंगू की तरफ फरार हुए. करीब दो घंटे के बाद करीब 10.20 बजे तीर्थयात्रियों की बस पर फायरिंग शुरु कर दी.

एक बाइक पर दो आतंकी सवार थे. दोनों ने सामने से ही बस पर हमला किया. आतंकियों ने ताबड़तोड़ गोलियां बरसाई और फरार हो गए. बताया जा रहा है कि जिन आतंकियों ने गोली बरसाई उनके दो साथी और थे. इस तरह कुल चार आतंकियों ने इस हमले को अंजाम दिया. गोलियां बरसा कर आतंकी तो चले गए, लेकिन बस में चीख पुकार का मच गया.

एक यात्री योगेश प्रजापति ने बताया, ‘5 बजे बस से श्रीनगर से कटरा के लिए निकले थे. श्रीनगर से करीब 5 किलोमीटर आगे जाकर बस का टायर पंचर हो गया. टायर ठीक करने में करीब दो से ढाई घंटे लग गए. बस का टायर पंचर नहीं होता तो संभव था कि तीर्थ यात्रियों का सामना आतंकियों से न होता. इसी बीच आतंकी आए और ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी.’

 

[ad_2]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*