Home » National » विदेशी नागरिकों और छात्रों पर बोझ बढ़ाने की तैयारी में ब्रिटेन, भारत पर भी पड़ेगा असर

विदेशी नागरिकों और छात्रों पर बोझ बढ़ाने की तैयारी में ब्रिटेन, भारत पर भी पड़ेगा असर

विदेशी नागरिकों और छात्रों पर बोझ बढ़ाने की ब्रिटेन सरकार  तैयारी कर रही है । लंबे समय के लिए  यूरोपीय संघ (EU ) के देशों से बाहर से आने वाले एक तथाकथित दरअसल  ‘हेल्थ सरचार्ज’ दोगुना करने का ब्रिटेन सरकार फैसला किया है। भारत भी ब्रिटेन के इस कदम से प्रभावित होगा।  EU के बाहर के देशों से आने वाले नागरिकों को सरकार के इस फैसले के बाद  अपनी जेबें और ढीली करनी पड़ेंगी।

सरचार्ज को 200 पाउंड से बढ़ा कर प्रति वर्ष 400 पाउंड कर दिया गया है। वहीं, छात्रों के लिए रियायती दर  बढ़ा कर 300 पाउंड कर दिया गया है। 6 महीने या अधिक समय तक  ब्रिटेन में कामकाज, पढ़ाई या परिवार के सदस्यों के साथ ठहरने वाले EU  से बाहर के सभी आगंतुकों द्वारा यह सरचार्ज चुकाया जाता है।

ब्रिटेन की आव्रजन मामलों की मंत्री केरोलीन नोक्स ने कहा कि अधिभार स्वास्थ्य सेवाओं तक पहुंच की पेशकश करता है जो कई अन्य देशों की तुलना में कहीं अधिक व्यापक और कम लागत वाली है। इससे प्राप्त होने वाली आय सीधे NHS  सेवाओं में जाएगी। प्राक्लन विभागों के मुताबिक सरचार्ज अदा करने वाले लोगों के इलाज पर  NHS प्रतिवर्ष औसतन 470 पाउंड खर्च करता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*