Home » National » tejashwi yadav nitish kumar bjp rss bihar floor test 3 idiots – States News

tejashwi yadav nitish kumar bjp rss bihar floor test 3 idiots – States News

[ad_1]

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने विधानसभा में विश्वास मत हासिल कर लिया है. बीजेपी-जेडीयू की सरकार के पक्ष में 131 वोट पड़े और विपक्ष में 108 वोट. विश्वास मत के बाद तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार पर जमकर हमला बोला.

तेजस्वी ने कहा कि विश्वास मत के खिलाफ राजद और कांग्रेस ने वोट दिया है. 2015 में बीजेपी के खिलाफ वोट मिला था, महागठबंधन को वोट मिला था. नीतीश ने बिहार का अपमान किया है. अगर बीजेपी के साथ ही जाना था तो चार साल में चार सरकारें क्यों बनाई है. चार साल में चार सरकार एक ही व्यक्ति के लिए बनाई गई.

हमनें राज्यपाल से मिलने का समय मांगा था, लेकिन हमें समय नहीं दिया गया. आज भी हमनें गुप्त मतदान की मांग थी, लेकिन स्पीकर ने हमारी बात नहीं मानी. बीजेपी वालों ने सभी विधायकों को बंदी बना लिया था.

तेजस्वी ने कहा कि 28 साल का नौजवान किसी के आगे नहीं झुका पर ये तो मंझे हुए खिलाड़ी थे फिर भी RSS-BJP के सामने घुटने टेक दिए. उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार ने गांधी के हत्यारों और गोडसे के वंशजों के साथ हाथ मिला लिया है. तेजस्वी ने कहा कि कुछ समय पहले नीतीश कुमार ने पीएम मोदी के लिए एक कविता सुनाई थी. वो मैं आज उनको याद दिलाना चाहता हूं.

बहती हवा सा था वो, गुजरात से आया था

काला धन लाने वाला था वो, कहां गया उसे ढूंढो

हमको देश की फिक्र सताती है, वो बस विदेश का दौरा लगता है

हमको बढ़ती महंगाई सताती है, हर वक्त अपनी सेल्फी खिंचवाते हैं

दाऊद को लाने वाला था वो, कहां गया उसे ढूंढो

पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने कहा कि मैं इस प्रस्ताव के विरोध में खड़ा हूं. हमें बीजेपी के खिलाफ वोट मिला था, ये सब प्रीप्लान था. ये एक तरह से लोकतंत्र की हत्या है. बीजेपी के भी कई मंत्री हैं जिनपर आरोप हैं, नीतीश कुमार और सुशील मोदी पर भी आरोप हैं. तेजस्वी ने कहा कि कांग्रेस और राजद ने मिलकर नीतीश कुमार के वजूद को बचाया था, नीतीश ने बिहार की जनता को धोखा दिया.

तेजस्वी ने हमलावर रुख अख्तियार करते हुए कहा कि लालू जी पहले से आरोपी हैं फिर क्यों नीतीश कुमार गठबंधन किए. नीतीश कुमार मोतिहारी गए, गांधी जी के सामने बैठे उस समय इनका असली चेहरा सामने नहीं आया था, आज असली चेहरा सामने आ गया. बीजेपी के साथ चले गए, नाथूराम गोडसे के समर्थकों के साथ चले गए. हम अकेले काफी हैं. नीतीश कुमार डर गए, नतमस्तक हो गए, रणछोड़ हो गए.

उन्होंने कहा कि अब जनता नीतीश कुमार पर विश्वास नहीं करेगी. हे राम से पलटी मार करके जय श्री राम में चले गए. नीतीश कुमार पर हत्या का मुकादमा चल रहा है. सुशील मोदी पर भी 104 का मुकदमा चल रहा है फिर मुझे क्यों निशाना बनाया गया. सबसे बड़ी पार्टी होने के बाद भी राज्यपाल ने हमें मौका नहीं दिया. राज्यपाल नीतीश से मिलने आते हैं और फिर अस्पताल चले जाते हैं.

 

उन्होंने आगे कहा नीतीश कुमार को डीएनए का गाली दिया गया फिर किस मुंह से बीजेपी के पास चले गए. नीतीश कुमार का व्यक्तिगत तौर पर हम सम्मान करते हैं लेकिन राजनीतिक रूप से नीतीश कुमार ने गलत किया है, बीजेपी के साथ बैठे हैं. हमें दुख है. एक निर्दोष को फंसा कर, परिवार को बदनाम करके बीजेपी के साथ जाना गलत है. नीतीश कुमार बोल देते. आप इस्तीफा मांगते तो हमारी पार्टी और मैं जरूर इस बात पर सोचते.

अगर लालू जी को पुत्रमोह रहता तो लालू जी हमें मुख्यमंत्री बनाते लेकिन उन्हें भाई मोह था इसीलिए नीतीश को मुख्यमंत्री बनाए. अब नीतीश कुमार बीजेपी के सभी मुख्यमंत्री का इस्तीफा मांगेंगे. गिरिराज के घर पर करोड़ों रूपये मिले क्या नीतीश कुमार उनका इस्तीफा मांगेंगे. क्या नीतीश कुमार अब देश मे एन्टी नेशनल मुद्दे पर बीजेपी का विरोध करेंगे.

 

[ad_2]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*